Featured Post

मौहम्मद गौरी का वध किसने किया था??(Did Prithviraj chauhan killed Mohmmad ghauri?)

Did Prithviraj Chauhan killed Mohmmad Ghauri????? मौहम्मद गौरी का वध किसने किया था? सम्राट पृथ्वीराज चौहान ने अथवा खोखर राजपूतो ने??...

Monday, June 15, 2015

जिन भारतवासियों को राजपूतों से नफरत है उनके लिए-----




😡जिन जातियो को क्षत्रिय राजपूतो से नफरत है वो.. 🔰जयपुर,जोधपुर,उदयपुर,जैसलमेर,बीकानेर,हरयाणा आदि के साथ ही सैकड़ो शहरो के नाम बदल दे..

🔰ध्यान दें वर्तमान भारत के सीमा वर्ती क्षेत्र और पूर्व रियासते.. जैसलमेर,बीकानेर,जोधपुर,जम्मू,कच्छ में राजपूत शाशन ना होता तो ये भी पाकिस्तान में होते और आज क्षत्रिय राजपूत विरोधी हिन्दू टोपी पहन कर कुरान पढ़ रहे होते ।


🔰शायद इन क्षत्रिय राजपूतो ने गलती कर दी मुग़ल तुर्को से लड़ाई कर के अपनी संस्कृति को बनाये रखा..

💪सम्राट विक्रमादित्य परमार अरब तक शासन किया
💪वीर हमीर 
💪बाप्पा रावल अरबो को मार भगाया।
💪नागभट प्रतिहार
💪मिहिरभोज प्रतिहार
💪राणा सांगा
💪राणा कुम्भा
💪वीर पृथ्वी राज चौहान 
💪महाराणा प्रताप 
💪रानी दुर्गावती
💪वीर जयमल और फत्ता
💪वीर छत्रशाल बुंदेला
💪दुर्गादास राठौर
💪पज्जवन राय कछवाहा
💪छत्रपति शिवाजी भोसले(मराठा क्षत्रिय)
💪मालदेव
💪जोरावर सिंह 
💪डूंगरसिंह भाटी
💪महाराणा राजसिंह
💪रानी कर्मावती और हाडी रानी 
💪जाम नरपत
💪रानी पद्मिनी
💪विरमदेव सोनिगरा 
💪राजा भोज परमार
💪सुहेलदेव बैस
💪अनंगपाल तोमर
💪राजा हर्षवर्धन बैस
💪बन्दा सिंह बहादुर
💪धीरसेन पुंडीर(मौहम्मद गौरी को घायल कर पकड़ा)
💪जयसिंह रावल पावापति(पताई रावल)
💪वीरधवल बाघेला
💪जैता और कुम्पा राठौड़
💪गोरा और बादल
💪आल्हा उदल
💪वचरा दादा सोलंकी
💪मोखड़ा जी गोहिल
💪भानजी दल जाडेजा

𺠠𺠊🔰ऐसे ही हजारो क्षत्रिय योद्धा जो हिंदुत्व और भारतीय संस्कृति के लिए कुर्बान हो गए।जिन अरबों ने मोहम्मद साहब की मृत्यु के कुछ ही दशक के भीतर समूचे अरब मिस्र ईरान ईराक मध्य पूर्व एशिया का तलवार के दम पर पूर्ण इस्लामीकरण कर दिया वो अरब हमलावर भारत में बप्पा रावल नागभट्ट परिहार के पराक्रम का सामना नही कर पाए।अरबों के बाद भी तुर्कों मुगलों अफगानों ने यहाँ कई सदी तक राज तो किया पर निरन्तर राजपूति प्रतिरोध के कारण वो भारत का पूर्ण इस्लामीकरण नही कर पाए।
हम क्षत्रियों के अलावा अन्य वीरों जिन्होंने बलिदान देकर धर्म की रक्षा की उनको भी नमन करते हैं।गुरु गोविन्द सिंह,गोकुल जाट,हेमू,वीर हकीकत रॉय हमारे लिए समान रूप से पूजनीय हैं।
अपना रक्त बहाकर जौहर शाका की बलिदानी परम्परा से जिन क्षत्रियों ने सनातन संस्कृति की रक्षा की क्या उनका बलिदान तुम्हारे लिए कोई मौल नही रखता????
चन्द गद्दारों की वजह से पुरे क्षत्रिय समाज पर आक्षेप लगाने का अधिकार तुम्हे किसने दिया???
किस देश धर्म समाज में गद्दार नही होते?????

💪वीर कुंवर सिंह,अमरसिंह,रामसिंह पठानिया,आऊवा ठाकुर कुशाल सिंह,राणा बेनीमाधव सिंह,चैनसिंह परमार,रामप्रसाद तोमर बिस्मिल,ठाकुर रोशन सिंह,महावीर सिंह राठौर जैसे महान क्षत्रिय क्रांतिकारी अंग्रेजो से लड़ते हुए शहीद हो गए।


🔰आजादी के बाद सबसे ज्यादा परमवीर चक्र क्षत्रिय राजपूतो ने जीते।

💪शैतान सिंह भाटी,जदुनाथ सिंह राठौड़,पीरु सिंह शेखावत,गुरुबचन सिंह सलारिया,संजय कुमार डोगरा जैसे परमवीरो का बलिदान क्या भुला जा सकता है????
🔰आज भी 
⛳राजपूत रेजिमेंट,
🎋राजपूताना रायफल्स,
⛳डोगरा रेजिमेंट,
🎋गढ़वाल रेजिमेंट,
⛳कुमायूं रेजिमेंट,
🎋जम्मू कश्मीर रायफल्स के जवान सीमा पर दुश्मन का फन कुचलने और गोली खाने के लिए सबसे आगे होते हैं।

🔰देश के एकीकरण के लिए हमने अपनी सैकडो रियासते कुर्बान कर दी,सारी जमीदारी कुर्बान कर दी,अपने खजाने खाली कर दिए!!!!!

👉क्या इस त्याग को यूँ ही भुला दिया जाएगा???❓

💪 क्षत्रिय राजपूत मतलब क्षत्रियो राजपुत्रः 

📖गीता से लेकर रामायण तक में वर्णित है यहाँ क्षत्रियो में 
💪भगवान राम, 
💪भगवान कृष्णा से लेकर..
💪 महात्मा बुद्ध भगवान..
💪 महावीर से लेकर सभी सभी तीर्थनकर 
🔰साथ ही लोकदेवता कल्ला जी बाबा रामदेव गोगाजी कल्लाजी सहित सैकड़ो लोकदेवता,जाम्भा जी परमार(विश्नोई मत) हुएं । गुरु गोविन्द सिंह जी और सिक्खों को शस्त्र विद्या सिखाने वाले बज्जर सिंह राठौड़ राजपूत ही थे।

🔰ये सब क्षत्रिय राजपूत थे,क्या इनको भी मानना छोड़ दोगे❓❓..

👑
     🔰राजपुताना सोच और क्षत्रिय इतिहास🔰
  

3 comments:

  1. Very Valuable,Precious & Needed-Information!!!Thank You Very much for Providing this Knowledge.JAI RAJPUTANA _/\_

    ReplyDelete
  2. हमें गर्व है राजपुत होने पर..
    जय राजपुताना..!

    ReplyDelete
  3. Alha- Udal r 2 different persons .Alha (Alad Singh Banafar) Udal (Uday Singh Banafar) were chandrvanshi Banafar Rajputs who were considered low-class Rajputs by other Rajputs. Father of Ulha-Udal , Dashraj Singh Banafar was killed by a Baghel when he was sleeping and he cut his head and hanged it on a tree at that time Alha was 1 year old and udal was in his mother's womb .To avenge this ,Alha and udal brother killed that Baghel Rajput and hanged his head on the same tree .Later, when Prithviraj Chahuan attacked Mahoba udal was killed by Prithviraj chauhan's brahmin friend who was spared by udal .Udal spared him saying 'I respect Brahmin ' .However, udal wounded Chauhan very badly .When Udal was killed ,Alha got very angry as his family included only his mother and brother Udal .He killed 1000s of soldiers of Chauhan's army .His guru was called to stop Alha .When Alha reached wounded Chauhan his guru stopped him saying 'a true Rajput will never harm his opponent if he is unarmed or is not in a condition to fight .U r only killing Chauhan to take revenge of ur brother's killing ....r u a Rajput ? ' .Thus alha stopped and went to Himalayas .Banafars were considered low class and were killed by their own Rajput brothers. Rajputs lacked unity .Do u know what was the consequence of Prithviraj Chauhan attacking Mahoba ?? Mohammed Gori attacked India second time and this time Chauhan's army was weaker than before .If Chauhan haven't attack Mohaba ,he would have easily defeated Gori even after Jai Chand's betrayal. Let's make unity .We all Rajputs are 1 .Don't consider any Rajputs as low class .Thank u.

    ReplyDelete